Introduction About Ashok Kumar

राष्ट्रीयता को सर्वोपरि मानने वाले अशोक कुमार जन्म से सामाजिक रुझान वाले व्यक्तित्व के धनि थे।समाज के हर तबके में इनकी लोकप्रियता देखते ही बनती है। बचपन से ही पूरे क्षेत्र में घूमना और लोगों से मिलना अशोक कुमार जी को खूब पसंद था। जरूरतमंदों की सहायता करना उनके स्वभाव में हैं।
महागामा विधानसभा को विकास की पटरी पे लाने में अशोक कुमार जी का बहुत बड़ा योगदान रहा हैं।

श्री राधे शयाम भगत के बड़े बेटे अशोक कुमार प्रारंभिक शिक्षा परसा हाई स्कूल से की। अपने लोगों के लिए कुछ करने का जज्बा उन्हें विरासत में मिला है. शुरुवात से ही अशोक कुमार का मानना है की राजनीति में अच्छे लोग आयें, और खुद बदलाव बने जो वे समाज में देखना चाहते है। 90 की दशक महागामा की राजनीतिक अस्थिरता ने उन्हें प्रभावित किय। लोगों पे गहरे प्रभाव व अपार समर्थन के कारण श्री अशोक कुमार ने राजनीतिक उद्घोष किया, 2000 से 2009 तक वे महागामा विधानसभा के विधायक रहे।

2014 के विधानसभा चुनावों में फिर से जनता ने उन्हें अपना प्रतिनिधि चुना और महागामा विधानसभा क्षेत्र से विधायक बनाया.
विधायक कुमार ने क्षेत्र में विकास के नए कीर्तिमान स्थापित किये और लोकतंत्र में जनता के विश्वास को सुदृढ़ किया, सालों के कुशासन व भ्रस्ट तंत्र को तोड़ते हुए उन्होंने कई सराहनीये कार्य किये जिससे जनता को सीधा लाभ हुआ. घर-घर बिजली, पानी व सड़क उनके एजेंडे में शीर्ष पे रहा । विधानसभा में वह राज्य व क्षेत्र के जन-मुद्दों को सरकार तक जोरशोर से पहुंचाया। जनकल्याण की योजनाओं को बिचौलिया मुक्त करने के अपने वादे को पूर्ण करते हुए उन्होंने समाज के हर गरीब तक सरकार की सीधी पहुंच सुनिश्चित की। श्री कुमार का स्पष्ट मानना है की विकास के कार्य सर्वदा निर्धारित समय-सिमा में पूर्ण हों.
विकास की राजनीति, साफ छवि व लोगों का अपने पूर्व विधायक से सीधा कनेक्शन उन्हें वर्तमान राजनीतिक बिरादरी में विशेष स्थान प्रदान करता है. महागामा के प्रति श्री कुमार की बेजोड़ निष्ठा ने उन्हें बरसो में सबसे लोकप्रिये जनप्रतिनिधि के रूप में स्थापित किया है.
युहीं नहीं महागामा का घर घर उन्हें गर्व से अपना बेटा, भाई और अभिभावक कहता है।

https://www.facebook.com/mlaashokkumar/